किसान आन्दोलन पर ट्वीट करने के बाद, मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर पर प्रदर्शन जारी|

नई दिल्ली: क्रिकेट के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के किसान आंदोलन को लेकर Tweet के बाद से सियासी घमासान मचा हुआ है| सचिन तेंदुलकर ने अंतरराष्ट्रीय सेलिब्रिटीज़ के Tweet को लेकर एक Tweet किया था| सचिन के इस Tweet पर बवाल जारी है| राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने किसी अन्य विषय पर बोलते समय सतर्क रहने की नसीहत दे डाली है|

सचिन तेंदुलकर पर विपक्षी दलों की ओर से किए जा रहे वार के बीच केंद्र की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेता उनके पक्ष में खुलकर आ गए हैं| Central Government के संसदीय कार्य मंत्री प्रह्वाद जोशी ने कांग्रेस पर नफरत की भाषा बोलने का आरोप लगाया है|

वहीं, महाराष्ट्र भारतीय जनता पार्टी के नेता राम कदम ने Tweet कर कहा है कि भारत रत्न, देश के भूषण सचिन तेंदुलकर को इस तरह अपमानित किया जाना दुखद है|

राम कदम ने अपने Tweet में आगे कहा है कि सचिन से बेहद प्यार करने वाले बाला साहब ठाकरे होते तो वे यह कभी नहीं सह सकते थे| वे अपने अंदाज में कड़ा जवाब देते| उन्होंने Tweet में शरद पवार पर भी निशाना साधा| भारतीय जनता पार्टी नेता राम कदम ने कहा है कि देखना है कि शिवसेना और क्रिकेट में विशेष रुचि लेने वाले शरद पवार सचिन को अपमानित करने वालों का समर्थन करेंगे या विरोध|

भारतीय जनता पार्टी के नेता आशीष शेलार ने भी इस मुद्दे पर शिवसेना और कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा है कि हम केरल में सचिन तेंदुलकर का अपमान करने वाली घटना की निंदा करते हैं| उन्होंने शिवसेना पर भी हमला बोला और सवाल खड़े किए| इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी प्रदेश की सत्ता पर काबिज महा विकास अघाडी को घेरते हुए कहा था कि क्या अघाडी के नेता सचिन का यह अपमान बर्दाश्त करेंगे|

बतातें चलें कि शरद पवार ने सचिन तेंदुलकर को अपने क्षेत्र से अलग किसी अन्य विषय पर बोलते समय सतर्क रहने की नसीहत देते हुए कहा था कि किसान आंदोलन को लेकर इन्होंने जो राय रखी है, उससे जनता में नाराजगी है|

By admin

Leave a Reply

आप छोड़ सकते हैं