22 जनवरी 2021 तक नहीं मिलेगी सर्दी से राहत |

नई दिल्ली: उत्तर भारत  में इन दिनों ठंड  पड़ने से लोगों का जीना बेहाल हो गया है, शीतलहर और घने कोहरे  की वजह से लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है, यहां अभी ठंड और घने कोहरे से राहत मिलती नजर नहीं आ रही है, सर्दी से बेहाल लोग राहत के लिए आग का सहारा ले रहे हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक कुछ और दिनों तक लोगों को शीतलहर से ठण्ड का सामना करना पड़ेगा, विभाग के अनुसार 22 जनवरी 2021 तक उत्तर भारत में शीतलहर का कहर जारी रहेगा, उत्तरी मैदानी इलाकों जैसे-पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, यूपी और उत्तराखंड में घना कोहरे का भी अनुमान जताया गया है।

मौसम विभाग का कहना है कि घरे कोहरे की वजह से बारिश हो सकती है, इस दौरान दिन का Temperature बढ़ेगा, साथ ही रात के Temperature में गिरावट आएगी, ठंड और शीतलहर की वजह से अगले 3 दिनों तक यानी कि 21 जनवरी तक Minimum Temperature 2-4 डिग्री Celsius तक गिरने की संभावना जताई जा रही है और उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में तापमान 2-4 डिग्री Celsius बढ़ सकता है।

राजस्थान में बीकानेर, गंगानगर, जैसलमेर, अजमेर जिलों में सोमवार को घना कोहरा छाया रहा, मौसम केन्द्र के अधिकारी ने बताया की राज्य के ज्यादातर भागों में पूर्वा हवाओं के चलने से नमी बढ़ गयी है, इन परिस्थितियों में आगामी दिनों में जयपुर, भरतपुर तथा बीकानेर संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर घना कोहरा छाए रहने की संभावना है।

उत्तर प्रदेश के पूर्वी और पश्चिमी भाग में पिछले चौबीस घंटों में हल्का और घना कोहरा होने के कारण सूरज नहीं दिखा, धूप नहीं निकलने से पूरा प्रदेश ठंड की गिरफ्त में है, मौसम विभाग के अनुसार गोरखपुर, मुरादबाद, आगरा मंडल में दिन के तापमान में थोड़ी बढोत्तरी हुई लेकिन प्रयागराज, कानपुर, बरेली, झांसी मंडलों में तापमान नीचे गिरा है|

पंजाब और हरियाणा में कई स्थानों पर सोमवार को Minimum Temperature में मामूली बढ़ोतरी के साथ ही लोगों को ठंड से थोड़ी राहत मिली है, मौसम विभाग के अधिकारियों के अनुसार दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी चंड़ीगढ़ में Minimum Temperature सामान्य से दो डिग्री अधिक 7.2 डिग्री Celsius दर्ज किया गया, मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अंबाला, हिसार, करनाल, भिवानी, अमृतसर, लुधियाना औ पटियाला सहित कई स्थानों पर सुबह कोहरे के कारण दृश्यता कम रही।

भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली में सोमवार को पुरवाई हवाएं चलने और आंशिक रूप से बादल छाये रहने के कारण Minimum Temperature सामान्य से 2 डिग्री Celsius अधिक 9 डिग्री Celsius दर्ज किया गया, उन्होंने बताया कि Minimum Temperature के 17 डिग्री Celsius के आसपास दर्ज किए जाने का अनुमान है।

कश्मीर के अधिकतर स्थानों पर रविवार को Minimum Temperature में मामूली बढ़ोतरी दर्ज की गई, वहीं लोगों को शीत लहर से राहत नहीं मिली क्योंकि घाटी में पारा जमाव बिंदु से कई डिग्री नीचे ही रहा।

मौसम विभाग ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ के 22 जनवरी से कुछ दिन के लिए केन्द्र शासित प्रदेश को प्रभावित करने का अनुमान है, इस महीने की शुरुआत में भारी बर्फबारी के बाद से ही कश्मीर घाटी में शीत लहर का प्रकोप जारी है।

भीषण सर्दी के कारण डल झील सहित यहां कई इलाकों में पानी के स्रोत भी जम रहे हैं, रात में अब भी तामपान शून्य से कई डिग्री नीचे दर्ज किया जा रहा है, गुलमर्ग के स्की-रिज़ार्ट को छोड़कर रविवार रात को घाटी में ठंड की स्थिति में मामूली सुधार जरूर था। जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में तापमान शून्य से नीचे 6.4 डिग्री Celsius दर्ज किया गया था।

By admin

Leave a Reply