सरकार के द्वारा खालिस्तानी और पाकिस्तानी समर्थक 1178 Twitter Account पर कार्रवाई करने का दिए गए निर्देश|

नई दिल्ली:  किसान आंदोलन की आड़ में भारत में दंगा व अशांति फैलाने के उद्देश्य से विदेश से लगातार Tweet किए जा रहे हैं। इनमें सैकड़ों Tweet पाकिस्तान व खालिस्तान समर्थक Handle से किए जा रहे हैं। Ministry of Electronics and Information Technology ने भारत की एकता एवं अखंडता के लिए खतरा मंडरा रहा है सिको लेकर 1178 Tweeter Account की सूची Twitter को सौंप उनपर कार्रवाई के लिए कहा है। इन अकाउंट से किए जाने वाले Tweet को प्रबंधकीय तरीके से अग्रसारित किया जा रहा है।

Ministry of Electronics and Information Technology ने इन Account की सूची चार फरवरी को ही Tweeter को सौंप दी थी। लेकिन ट्विटर की तरफ से अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। इससे पहले 31 जनवरी को भी सरकार ने ट्विटर से 257 Link को ब्लाक करने के लिए कहा था, लेकिन उस संबंध में भी ट्विटर की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई। ये 257 लिंक Farmers Genocide हैशटैग से होने वाले ट्वीट से जुड़े हैं जो भारत में किसान आंदोलन के नाम पर हिंसा भड़काने के उद्देश्य से किए जा रहे थे। Twitter की तरफ से कार्रवाई करने की जगह इन्हें अभिव्यक्ति की आजादी बताया गया। पिछले एक फरवरी को Farmers Genocide की कमेटी के सामने Twitter के वकील की पेशी से ठीक पहले इन 257 लिंक को कुछ मिनट के लिए ब्लॉक किया गया था। ट्विटर के इस रवैये को देखते हुए सरकार कार्रवाई की तैयारी में जुट गई है।

Ministry of Electronics and Information Technology के  सूत्रों के मुताबिक ट्विटर को अगर सरकार का यह निर्देश मुनासिब नहीं लग रहा है तो कंपनी अदालत में सरकार के निर्देश को चुनौती दे सकती है। लेकिन ट्विटर की तरफ से अब तक सरकार के निर्देश को देश के किसी भी अदालत में चुनौती नहीं दी गई है। Ministry of Electronics and Information Technology के सूत्रों के मुताबिक ट्विटर को यह बता दिया गया है कि सरकार ने IT Act के Section 69 (A) के तहत यह निर्देश दिया है क्योंकि ये ट्वीट आंदोलन को लेकर गलत सूचना का प्रसार कर रहे हैं जिससे हिंसा भड़कने के साथ देश की कानून व्यवस्था प्रभावित होने की आशंका हैं। इस एक्ट में जुर्माने के साथ ही सख्त कार्रवाई का प्रावधान है।

By admin

Leave a Reply

आप छोड़ सकते हैं