26 जनवरी 2021 को रखी जाएगी अयोध्या मस्ज़िद की नींव|

नई दिल्‍ली: राम मंदिर पर Supreme court के फैसले के एक साल बाद उत्तर प्रदेश Sunni Central Waqf Board  गणतंत्र दिवस पर मस्जिद की नींव रखने का विचार कर रहा है, अयोध्या के धनीपुर गांव में Borad को आवंटित पांच एकड़ के भूखंड पर मस्जिद का निर्माण किया जाएगा, इस संबंध में औपचारिक घोषणा करने के लिए Board के 19 दिसंबर को एक Press conference आयोजित करने की संभावना है।

छह महीने पहले बोर्ड ने Indo-Islamic Cultural Foundation की स्थापना की, जो मस्जिद के निर्माण के लिए एक Trust है, Timesof India की एक Report के अनुसार, Trust के सदस्य 26 जनवरी को शिलान्यास समारोह आयोजित करने के तैयारी में हैं, क्योंकि इस दिन देश का संविधान लागू हुआ था,

Report के अनुसार, नई मस्जिद की संरचना बाबरी मस्जिद से बड़ी होगी, लेकिन राम जन्मभूमि परिसर में मस्जिद के समान डिजाइन की संभावना नहीं है।

कैंपस में होंगे Hospital एवं Library

19 दिसंबर की Press conference के दौरान संरचना के नक्शा दिखाया जाएगा, जिसे Trust के मुख्य वास्तुकार द्वारा अंतिम रूप दिया गया है, प्रोजेक्ट में 2000 से अधिक लोगों के लिए परिसर में नमाज के लिए जगह होगी, Trust 19 दिसंबर को Multispeciality Hospital, Community kitchen और Library जैसी सुविधाओं के Layout का भी अनावरण करेगा, Structure के डिजाइन जगह की ऐतिहासिक महत्व के अनुसार होंगे। इसमें 300 Bed का हॉस्पिटल बनाया जाएगा और इस्लाम के पैगंबर द्वारा सिखाए गए मूल्यों के आधार पर लोगों को सेवाएं प्रदान की जाएगी, परिसर में एक Nursing House और Paramedics College भी होगा, Report में एक अधिकारी के हवाले से कहा गया है कि Trust के सदस्य केंद्र की स्थापना के लिए Corporate funding की मांग कर रहे हैं।

By admin

Leave a Reply