रोजग़ार सृजन कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग

चंडीगढ़ (राजू श्रीवास्तव) 8 सितम्बर: रोजग़ार सृजन कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग, पंजाब नौजवानों को रोजग़ार मुहैया करवाने के लिए अथक प्रयास कर रहा है। विभाग के अधीन चल रही विभिन्न स्कीमों का नींव पत्थर उद्घाटन मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा 9 सितम्बर को वीडियो कांफ्रेसिंग के द्वारा किया जायेगा।

इस सम्बन्धी और ज्यादा जानकारी देते हुए रोजग़ार सृजन कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग के मंत्री श्री चरनजीत सिंह चन्नी ने बताया कि मुख्यमंत्री की तरफ से जिन स्कीमों का नींव पत्थर और उद्घाटन किया जाना है, उनमें मुख्य तौर पर सी-पाइट संस्थाओं के स्थायी कैंप को स्थापित किये जाने के लिए नींव पत्थर रखा जायेगा।

इस कैंप की स्थापना आसल उताड़, (अब्दुल हमीद की यादगार के नज़दीक, भारत-पाकिस्तान युद्ध वर्ष 1965 ) जि़ला तरन तारन में की जा रही है। इस संस्था का मुख्य मंतव्य पंजाब के पढ़े-लिखे बेरोजग़ार युवकों को फ़ौज /अर्ध सैनिक बलों में भर्ती करने के लिए पूर्व चयन प्रशिक्षण देने के इलावा उनकी कुशलता में विस्तार करने के लिए विभिन्न पेशों में तकनीकी प्रशिक्षण देना है। उन्होंने  बताया कि ग्रामीण बेरोजग़ार, गरीब और अनुसूचित /पिछड़ी श्रेणियों के नौजवान इस ट्रेनिंग के अधीन प्रशिक्षण प्राप्त करके अधिक से अधिक लाभ ले रहे हैं।

उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान युवकों को मुफ़्त खाना-पीना और रिहायश मुहैया करवाई जाती है। इस कैंप की स्थापना से जि़ला तरन तारन के युवक प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत राज्य का नाम रौशन कर सकेंगे।

उन्होंने बताया कि इस कैंप की स्थापना के लिए ग्राम पंचायत आसल उताड़ की 8 एकड़ 7 कनाल (7) कनाल) ज़मीन, रोजग़ार सृजन, कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग के नाम ट्रांस्फर हो चुकी है।

श्री चरनजीत सिंह चन्नी ने बताया कि जिस दूसरी स्कीम का उद्घाटन मुख्यमंत्री जी की तरफ से किया जाना है, उस स्कीम के अंतर्गत पंजाब के नौजवानों को सरकारी नौकरियों के लिए मुफ़्त आनलायन कोचिंग दी जायेगी। उन्होंने बताया कि इस स्कीम के अधीन पंजाब घर-घर रोजग़ार और कारोबार मिशन द्वारा पंजाब के नौजवानों को सरकारी (राज्य/केंद्रीय) नौकरियों के लिए आनलायन कोचिंग मुहैया करवाई जायेगी।

उन्होंने बताया कि यह स्कीम एचपीसीएल मित्तल एनर्जी लिमटिड बठिंडा की तरफ से कॉर्पोरेट सोशल रिसपांसीबिलिटी के अंतर्गत दी जा रही एक करोड़ रुपए की राशि के द्वारा चलाई बेटी है। इस स्कीम के अधीन पंजाब के ग्रैजुएट नौजवान मुफ़्त कोचिंग ले सकते हैं। अगर किसी मुकाबले की परीक्षा की कम से कम योग्यता दसवीं बारहवीं पास हो तो दसवीं-बारहवीं पास नौजवान भी मुफ़्त कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। कोचिंग का पाठ्यक्रम अलग-अलग मुकाबलों की परीक्षाओं को ध्यान में रख कर चलाया जायेगा। पाठ्यक्रम की मियाद 4 महीने होगी।

श्री चन्नी ने और ज्यादा जानकारी देते हुए बताया कि इसके साथ ही ’मेरा काम, मेरा मान’ स्कीम को साल 2021-22 के दौरान निर्माण कामगारों और उनके बच्चों के लिए लागू की जाना है। इस स्कीम के अधीन हर जिले की तरफ से सितम्बर महीने में कम से कम एक बैच को प्रशिक्षण करने का प्रस्ताव है। इस स्कीम के अंतर्गत पी.एस.डी.एम के अधीन आते सेंटरों में प्रशिक्षण दिलाया जायेगा और 2500 रुपए प्रति महीना रोजग़ार सहायता भत्ता एक साल के लिए प्रशिक्षण के दौरान दिया जायेगा।

यहाँ भी पढ़ें-

By admin

4 thoughts on “मुख्यमंत्री द्वारा 9 सितम्बर को रोजग़ार सृजन, कौशल विकास और प्रशिक्षण विभाग की प्रमुख स्कीमों का किया जायेगा उद्घाटन|”

Leave a Reply

आप छोड़ सकते हैं