10 फ़रवरी को लोकसभा में बोल सकते हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी|

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्रपति के अभिभाषण पर सोमवार को राज्यसभा में जमकर बोले हैं| इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद से देश को “Foreign direct investment” की नई परिभाषा बताई| वहीं अब सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 फरवरी को लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब दे सकते हैं|

राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसान आंदोलन से लेकर कोरोना से लड़ाई और Vaccine से जुड़ी कई बातों का जिक्र किया| उन्होंने किसानों को विश्वास दिलाया कि तीनों Agriculture Laws पूरी तरह से किसानों के हित में हैं| उनका कहना है कि इस कानून के जरिए देश के 12 करोड़ से ज्यादा छोटे किसानों को सीधा फायदा मिलेगा| इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि वह आंदोलनकारी किसानों के साथ हर संभव बातचीत के लिए तैयार हैं|

राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा की देश में लगातार छोटे किसानों की संख्या कम होती जा रही है| आंकड़े के मुताबिक 12 करोड़ से ज्यादा ऐसे छोटे किसान हैं| जिनके पास 2 Hectare से कम जमीन है और यह जो कानून लाए गए हैं, इसका सीधा फायदा ऐसे ही छोटे किसानों को मिलेगा|

इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछली सरकारों की कर्ज माफी की योजना पर सवाल उठाए| उनका कहना है कि कर्ज माफी जैसी योजना का फायदा सिर्फ बड़े किसानों को ही मिलता था और छोटे किसान उससे भी वंचित रह जाते थे| उन्होंने इसके साथ ही किसान बीमा योजना पर भी सवाल उठाए| उनका कहना है कि इसका फायदा भी बड़े किसानों को ही मिलता रहा है| उनका कहना है कि मोदी सरकार छोटे किसानों के फायदे के बारे लगातार सोच रही है|

जानकारी के मुताबित अब 10 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देने वाले हैं| जिसमें वह एक बार फिर से किसान आंदोलन को खत्म करने की अपील करते देखे जा सकते हैं| फिलहाल राज्यसभा में दिए गए भाषण से साफ है कि मोदी सरकार अभी Agriculture Laws पर जल्द हाथ पीछे खींचने को तैयार नहीं है|

By admin

Leave a Reply

आप छोड़ सकते हैं