पंजाब में शादी पार्टियों में 100 लोगों को बुलाने की ही इज़ाज़त

पंजाब: कोरोना वायरस (COVID-19) के एक बार फिर बढ़ते मामलों के देखते हुए पंजाब सरकार ने कुछ ऐहतियाती कदम उठाया है, मंगलवार को एक आदेश जारी कर 1 मार्च तक के लिए इनडोर (Indoor) और आउटडोर (Outdoor) दोनों जगहों पर होने वाले समारोहों में भीड़ पर अंकुश लगाने और जरूरत पड़ने पर डिप्टी कमिश्नरों (DC) को अपने जिलों में COVID-19 हॉटस्पॉट(Hot Spot) में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाने के आदेश दिए हैं।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि पंजाब में COVID-19 स्थिति की समीक्षा के लिए हुई एक वर्चुअल मीटिंग (Virtual Meeting) की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (CM Amrinder Singh) ने एक मार्च तक बैंक्वेट हॉल (Banquet Hall) में 100 लोगों और खुले स्थानों पर होने वाले शादी-पार्टियों के आयोजनों में मेहमानों की संख्या घटाकर 100 तक सीमित करने के आदेश जारी किए हैं।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने यह भी कहा कि सभी जगह फेस मास्क (Face Mask) और सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) नियम को सख्ती से लागू किया जाए। यह कदम राज्य में कोरोना वायरस (Corona Virus) मामलों की संख्या में वृद्धि को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच उठाया गया है।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने जिला उपायुक्तों को माइक्रो-कंटेनमेंट (Micro-Containment) रणनीतियों को अपनाने के लिए अधिकृत करते हुए कहा कि जरूरत पड़ने पर कोरोना हॉटस्पॉट (Hot Spot) में नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) लगाया जाए और पुलिस को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि सभी लोग मास्क पहनें। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिनेमा हॉलों (Cinema Hall) में भीड़ को नियंत्रित करने पर फैसला 1 मार्च के बाद लिया जाएगा।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह  ने कहा कि प्राइवेट ऑफिसों (Private Office) और रेस्तरां को अपने सभी कर्मचारियों के के आखिरी COVID-19 टेस्ट रिपोर्ट डिस्प्ले करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

पंजाब उन पांच राज्यों में शामिल है, जिन्हें केंद्र सरकार (Central Government) द्वारा कड़ी निगरानी, ​​नियंत्रण और आरटी-पीसीआर टेस्ट के माध्यम से मामलों की बढ़ती संख्या की जांच करने के लिए कहा गया है। अन्य चार राज्यों में- महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश हैं।

By admin

Leave a Reply

आप छोड़ सकते हैं